RU में निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी बने अध्यक्ष, मंत्री की बेटी निहारिका को हराया

RU में निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी बने अध्यक्ष, मंत्री की बेटी निहारिका को हराया

नागौर के छोटे से गांव धामणिया के निर्मल चौधरी राजस्थान यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष पद तक पहुंच गए हैं। निर्मल की रात-दिन की मेहनत और उसके जुझारूपन ने ही उसे आज इस मुकाम पर पहुंचा दिया।साधारण परिवार में जन्मे निर्मल के पिता दयालराम चौधरी पेशे से सरकारी अध्यापक हैं। वहीं उनकी माता रूपादेवी साधारण ग्रहणी है।

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय ( Rajasthan University ) छात्रसंघ चुनाव ( collage election jaipur ) में एक बार फिर निर्दलीय प्रत्याशी ने बाजी मारी है। इस बार निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल चौधरी ( Nirmal choudhary ) निर्वाचित हुए है। यह पांचवा मौका है। जब बागी उम्मीदवार अध्यक्ष पद पर जीता है। कांटे की टक्कर में निर्मल चौधरी ने भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन से बागी उम्मीदवार और मंत्री मुरारीलाल मीणा की बेटी निहारिका जोरवाल, NSUI की रितु बराला और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद(ABVP) के नरेंद्र यादव को शिकस्त दी है।

भाखर हैं निर्मल के राजनैतिक गुरु

निर्मल चौधरी को छात्र राजनीति में लाने का श्रेय लाडनूं विधायक मुकेश भाखर को जाता हैं। भाखर ही चौधरी के राजनीतिक गुरू बताए जाते हैं। भाखर का राजस्थान यूनिवर्सिटी में भी दबदबा रहा है।

नागौर के छोटे से गांव धामणिया के है निर्मल चौधरी

निर्दलीय प्रत्याशी निर्मल के सामने एबीवीपी, एनएसयूआई के अलावा एक राज्य मंत्री की बेटी भी उम्मीदवार थे। नागौर के छोटे से गांव धामणिया के निर्मल चौधरी राजस्थान यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष पद तक पहुंच गए हैं। निर्मल की रात-दिन की मेहनत और उसके जुझारूपन ने ही उसे आज इस मुकाम पर पहुंचा दिया।साधारण परिवार में जन्मे निर्मल के पिता दयालराम चौधरी पेशे से सरकारी अध्यापक हैं। वहीं उनकी माता रूपादेवी साधारण ग्रहणी है। साथ ही मां रूपादेवी खेतीबाड़ी भी देखती हैं। निर्मल भी समय मिलने पर मां को खेती के काम में हाथ बंटाते हैं।

राजस्थान विश्वविद्यालय के ये रहा परिणाम
निकटतम प्रतिद्वंदी निहारिका जोरवाल को 1465 मतों से हराया, निर्मल चौधरी को मिले कुल 4043 वोट, जबकि निहारिका जोरवाल को मिले 2578 वोट, एनएसयूआई प्रत्याशी रितु बराला 2010 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रही, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नरेंद्र यादव को मिले महज 988 वोट

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )